Universe TV
हर खबर पर पैनी नजर

आ गई भारत की पहली हाइड्रोजन कार, नितिन गडकरी ने की संसद तक की सवारी, खासियत जानकर रह जाएंगे हैरान

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

नई दिल्ली। केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी आज संसद में ग्रीन हाइड्रोजन से लैस कार से पहुंचे हैं। ये एक एडवांस कार है, जिसमें एडवांस फ्यूल सेल है। ये कार एडवांस सेल ऑक्सीजन और हाइड्रोजन के मिश्रण से बिजली पैदा करती है और फिर ये कार दौड़ती है। इस कार में उत्सर्जन के रूप में केवल पानी निकलता है।
इस एडवांस कार के जरिए नितिन गडकरी ये संदेश देना चाहते हैं कि भारत के ट्रांसपोर्ट सिस्टम में एक क्रांतिकारी बदलाव आने वाला है क्योंकि ये कार पर्यावरण को कोई नुकसान नहीं पहुंचाती है और इससे किसी तरह का प्रदूषण भी नहीं फैलता है। इसके विपरीत पेट्रोल और डीजल वाली कारें ज्यादा प्रदूषण फैलाती हैं।
इस एडवांस कार को टोयटा कंपनी के पायलट प्रोजेक्ट के तहत बनाया गया है और संसद में पहुंचने के बाद ये कार लोगों के बीच आकर्षण का केंद्र बन गई है। इस कार का नाम ‘Mirai’ है, जिसका हिंदी में अर्थ होता है भविष्य।
इस कार के बारे में नितिन गडकरी ने कहा कि आत्मनिर्भर बनने के लिए हमने ग्रीन हाइड्रोजन को पेश किया है जो पानी से पैदा होता है। यह कार पायलट प्रोजेक्ट है। अब देश में ग्रीन हाइड्रोजन का निर्माण शुरू होगा और आयात पर अंकुश लगेगा। इससे रोजगार के नए अवसर पैदा होंगे।
गडकरी ने कहा कि भारत सरकार ने 3000 करोड़ रुपए का मिशन शुरू किया है और जल्द ही हम हाइड्रोजन का निर्यात करने वाला देश बन जाएंगे। देश में जहां भी कोयले का इस्तेमाल होगा वहां ग्रीन हाइड्रोजन का इस्तेमाल किया जाएगा।


- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

Comments are closed.