Universe TV
हर खबर पर पैनी नजर

पहली बार यूक्रेन ने किया पलटवार, रूस के अंदर हवाई हमला कर ऑयल डिपो को उड़ाया

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

कीव/मॉस्को। रूस और यूक्रेन के बीच जंग 37वें दिन भी जारी है। रूसी हमलों के जवाब में अब यूक्रेन की आर्मी ने रूस के शहर पर हमला किया है। एक न्यूज एजेंसी के मुताबिक, रूस के पश्चिमी शहर बेलगोरोड गवर्नर का कहना है कि शुक्रवार को यूक्रेन के 2 हेलिकॉप्टरों ने उनके यहां ऑयल डिपो पर एयरस्ट्राइक की। इस हमले में दो लोग घायल हो गए।
इस में जंग में दोनों देश की सेना के साथ आम लोगों को भी जान माल का भारी नुकसान हो रहा है। यूक्रेन के प्रासीक्यूटर जनरल ऑफिस के मुताबिक, रूसी हमले में अब तक 153 बच्चे की मौत हो चुकी है, जबकि 245 से ज्यादा बच्चे घायल हैं।
चेर्नोबिल न्यूक्लियर पावर प्लांट से हट रही है रूसी सेना
अमेरिकी रक्षा मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि रूसी सेना ने 24 फरवरी को चेर्नोबिल न्यूक्लियर पावर प्लांट पर कब्जा कर लिया था। यहां से अब रूसी सैनिकों ने पीछे हटना शुरू कर दिया है। अधिकारी ने बताया, सैनिक चेर्नोबिल से दूर जा रहे हैं और बेलारूस में प्रवेश कर रहे हैं।
रोज 10 लाख बैरल कच्चा तेल जारी करेगा अमेरिका
अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन ने यूक्रेन पर हमले के मद्देनजर फ्यूल की बढ़ती कीमतों को कम करने के लिए अगले छह महीनों तक रोज 10 लाख बैरल तेल जारी करने की घोषणा की है। व्हाइट हाउस ने कहा कि यूक्रेन में सैन्य आक्रमण के कारण रूस पर अमेरिका समेत कई देशों के आर्थिक प्रतिबंधों से कच्चे तेल की कीमतें बढ़ी हैं।
इस बीच पुतिन ने कहा है कि रूस से प्राकृतिक गैस खरीदने के लिए विदेशी खरीदारों को रूसी बैंकों में रूबल खाते खुलवाने होंगे। आज से इन्हीं खातों से गैस आपूर्ति के लिए भुगतान स्वीकार किया जाएगा। नाटो के महासचिव जेंस स्टोल्टेनबर्ग ने कहा है कि यूक्रेन में रूसी सैनिक पीछे नहीं हट रहे हैं, बल्कि डोनबास क्षेत्र के लिए एकत्र हो रहे हैं।
ब्रिटेन ने रूसी मीडिया संगठनों पर लगाया प्रतिबंध
ब्रिटेन ने यूक्रेन में जंग के बारे में दुष्प्रचार और गलत जानकारी फैलाने के आरोप में एक दर्जन से अधिक रूसी मीडिया हस्तियों और संगठनों पर प्रतिबंध लगाने का फैसला लिया है। ब्रिटिश विदेश मंत्री लिज ट्रस ने कहा कि ये प्रतिबंध ‘पुतिन की फर्जी खबरों को परोसने वाले प्रचारकों’ पर लगाए गए हैं।
अमेरिका ने रूसी टेक्नोलॉजी कंपनियों पर लगाए नए प्रतिबंध
अमेरिका ने रूस की टेक्नोलॉजी कंपनियों पर नए प्रतिबंध लगाने का फैसला किया है। जानकारी के अनुसार नए प्रतिबंध 34 संगठनों और कई व्यक्तियों पर लगाए गए हैं। इनमें ऐसी कंपनियां भी हैं, जो डिफेंस सेक्टर के लिए कंप्यूटर हार्डवेयर, सॉफ्टवेयर और माइक्रो इलेक्ट्रॉनिक्स बनाती हैं।


- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

Comments are closed.