Universe TV
हर खबर पर पैनी नजर

लाल पल्‍लू लहराया और रुकवा दी ट्रेन, बुजुर्ग महिला की सूझबूझ से टला बड़ा हादसा

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

एटा। उत्‍तर प्रदेश के एटा में एक बुजुर्ग महिला ने अपनी सूझबूझ से पैसेंजर ट्रेन को बड़े हादसे से बचा लिया। रेल पटरी टूटी देख उन्‍होंने अपनी लाल साड़ी का पल्‍लू लहराया जिसे देखकर लोको पायलट ने ट्रेन रोक दी। पटरी की मरम्‍मत के बाद ट्रेन करीब आधे घंटे बाद रवाना हुई। ट्रेन के यात्रियों समेत स्‍थानीय लोगों ने महिला की खूब तारीफ की। सोशल मीडिया पर भी इस खबर की जमकर चर्चा की जा रही है।
जानकारी के अनुसार, यह मामला थाना अवावगढ़ क्षेत्र के कुलबा रेलवे हाल्‍ट स्‍टेशन के पास का है। गांव गुलरिया की रहने वाली 58 वर्षीय ओमवती गुरुवार सुबह आठ बजे खेतों में काम करने जा रही थीं। हाल्‍ट स्‍टेशन से करीब सौ मीटर दूर रेल पटरी पार करने पर उन्‍हें पटरी टूटी दिखाई दी। स्‍टेशन के पास गांव होने के कारण ओमवती जानती थीं कि यह टाइम एटा टूंडला पैसेंजर ट्रेन के यहां से गुजरने का है। उन्‍होंने सूझबूझ दिखाया और घर से लाल कपड़ा लाकर टूटी पटरी पर बांध दिया। इसके बाद जब उन्‍हें ट्रेन आती दिखाई दी तो उन्‍होंने ड्राइवर की तरफ लाल साड़ी का पल्‍लू लहराया। लोको पायलट ने लाल कपड़ा देख इमरजेंसी ब्रेक लगा दिया।
रेल ट्रैक की हुई मरम्‍मत
ट्रेन रुकने पर ओमवती ने ड्राइवर को टूटी पटरी दिखाई। इसके बाद उच्‍च अधिकारियों को सूचना दी गई। करीब आधे घंटे बाद पटरी की मरम्‍मत होने पर पैसेंजर ट्रेन आगे रवाना हुई। उत्‍तर मध्‍य रेलवे के पीआरओ अमित कुमार सिंह ने बताया कि एटा टूंडला ट्रैक पर पटरी टूट गई थी। मरम्‍मत के कारण ट्रेन करीब 25 मिनट तक रुकी रही। इसके बाद काशन लेकर ट्रेन को गुजारा गया। इस मौके पर बुजुर्ग महिला ओमवती ने बताया कि मुझे पता था कि लाल झंडी खतरे का निशान होती है। अच्‍छी बात थी कि मैं लाल साड़ी पहने हुई थी।


- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

Comments are closed.