Universe TV
हर खबर पर पैनी नजर

कोटा से फिर बुरी खबर, स्टूडेंट ने जहर खाकर की खुदकुशी, इस साल हुईं 28 मौतें

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

कोटा। सुसाइड सिटी बनता जा रहा कोटा फिर चर्चा में है। अब बीस साल के एक युवक ने सुसाइड कर लिया है। वह यूपी का रहने वाला था और पिता के साथ कोटा में रह रहा था। उसके पिता कोटा की ही एक कोचिंग में टीचर हैं। बेटे ने सुसाइड क्यों किया इसके कारणों का खुलासा नहीं हो सका है।
जहर खाकर दे दी जान
कोटा जिले की पुलिस इस मामले की जांच कर रही है। मृतक का नाम मोहम्मद तनवीर है और वह कोटा में ही रहकर एक कोचिंग में पढ़ाई कर प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहा था। आज उसके जहर खाकर जान देने का मामला सामने आया है। पुलिस तनवरी के परिवार से भी इस बारे में पूछताछ कर रही है।
अब तक 28 ने दे दी जान
कोटा में इस साल अब तक 28 छात्रों की मौत हो चुकी है। इनमें से लगभग सभी ने सुसाइड किया है। देश भर के कई राज्यों से ये सभी नीट या जेईई की तैयारी करने के लिए कोटा आए थे। डॉक्टर और इंजीनियर तो बन नहीं सके, सुसाइड कर माता-पिता को जिंदगी भर कर गम दे गए।
मंत्री धारीवाल ने सुसाइड मामले में दिया था अटपटा बयान
पिछले दिनों राजस्थान सरकार के मंत्री शांति धारीवाल ने कोटा में अटपटा बयान दिया था कि अधिकतर छात्र लव, अफेयर के कारण जान देते हैं। झारखंड की एक लड़की के सुसाइड के बाद धारीवाल ने ये कहा था कि लड़की ने लव अफेयर के चक्कर में जान दे दी। जबकि उसके पिता ने कहा कि बेटी पढ़ने आई थी, वह ऐसा नहीं कर सकती।
सरकार, प्रशासन और शिक्षकों के प्रयास भी असफल
कोटा में सुसाइड रोकने के लिए सरकार, जिला प्रशासन, कोटा पुलिस, कोचिंग संस्थान, सामाजिक संस्थाए सभी मिलकर प्रयास कर रहे हैं, लेकिन इसके बाद भी छात्र-छात्राएं ऐसे कदम उठा रहे हैं। पुलिस और जिला प्रशासन ने तनाव में रहने वाले छात्रों के लिए हेल्प लाइन नंबर भी जारी किया है, उस पर कॉल भी आ रहे हैं। फिर भी सुसाइड कम नहीं हो रहे हैं।


- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

Comments are closed.