Universe TV
हर खबर पर पैनी नजर

दिल्ली में मेयर चुनाव के पहले हंगामा : मनोनीत सदस्यों की शपथ के खिलाफ आप का विरोध; पीठासीन अधिकारी को घेरा, नारेबाजी की

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

नई दिल्ली। दिल्ली में एमसीडी के मेयर, डिप्टी मेयर और स्थायी समति के लिए छह सदस्यों के चुनाव के पहले आप के पार्षदों ने हंगामा किया। ये मनोनीत सदस्यों की शपथ का विरोध कर रहे थे। आप के पार्षदों ने पीठासीन अधिकारी का घेराव किया और धक्का-मुक्की की। इस दौरान वे भाजपा के सदस्यों से भिड़ गए। इसके बाद चुनाव की प्रक्रिया को एक घंटे के लिए स्थगित कर दिया गया।
उधर, कांग्रेस ने मेयर चुनाव में शामिल नहीं होने का फैसला किया है। सबसे पहले नवनिर्वाचित पार्षदों को पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई जाएगी। इसके बाद बैलेट पेपर के जरिए मेयर और डिप्टी मेयर का चुनाव होगा। मेयर के चुनाव में 273 मेंबर्स वोट डालेंगे। बहुमत के लिए 133 का आंकड़ा चाहिए। आप के पास 150 तो बीजेपी के पास 113 वोट हैं।
मेयर चुनाव को लेकर बड़े अपडेट्स …
आम आदमी पार्टी के पार्षदों का कहना है कि मनोनीत पार्षद गैरकानूनी तरीके से सदन में भेजे गए हैं। उनको शपथ नहीं दिलाई जानी चाहिए।आप विधायक आतिशी ने चुनाव न लड़ने के फैसले के बाद कांग्रेस पर भाजपा को फायदा पहुंचाने का आरोप लगाया है। रोटेम स्पीकर के लिए आप ने मुकेश गोयल का प्रस्ताव रखा था, लेकिन अलगी ने भाजपा पार्षद सत्या शर्मा को प्रोटेम स्पीकर नियुक्त किया है।
आप की कैंडिडेट शैली और बीजेपी की रेखा के बीच मुकाबला
मेयर के लिए आप आदमी पार्टी ने शैली ओबेरॉय को मैदान में उतारा है, जबकि बीजेपी की ओर से रेखा गुप्ता मैदान में हैं। वहीं, डिप्टी मेयर के लिए आप ने मोहम्मद इकबाल और कमल बागड़ी को बीजेपी ने उम्मीदवार बनाया है।
चुनाव में 3 रंग के बैलेट पेपर का इस्तेमाल होगा
इस चुनाव के लिए कलर कोड तय किया गया है। वाइट, ग्रीन और पिंक रंग के बैलेट पेपर का इस्तेमाल किया जाएगा। इसमें मेयर के लिए वाइट बैलेट पेपर से वोट डाले जाएंगे। डिप्टी मेयर चुनाव के लिए ग्रीन बैलट पेपर और स्टैंडिंग कमेटी के मेंबर्स के लिए पिंक बैलेट पेपर का यूज होगा।
कांग्रेस बोली- आप को बहुमत मिला है तो केजरीवाल अपना मेयर बनाएं
दिल्ली कांग्रेस अध्यक्ष अनिल चौधरी ने कहा कि दिल्ली की लोगों ने आम आदमी पार्टी को समर्थन दिया है। जनता का सम्मान करते हुए हम मेयर, डिप्टी मेयर और स्थायी समिति का चुनाव नहीं लड़ेंगे। आप को बहुमत मिला है तो केजरीवाल अपना मेयर बनाएं और दिल्ली की जनता की सेवा करें।
बहुमत आप के पास
मेयर के चुनाव में 273 मेंबर्स वोट डाले जाएंगे। बहुमत के लिए 138 का आंकड़ा चाहिए। कांग्रेस के गैरहाजिर होने पर 133 का आंकड़ा चाहिए। आप के पास 134 पार्षद हैं। इसके अलावा 3 राज्यसभा सांसद और 13 विधायक हैं। भाजपा के पास 7 सांसद और 1 विधायक मिलाकर कुल 113 वोट हैं। वहीं, कांग्रेस के 9 पार्षद और निर्दलीय दो पार्षद हैं। इस चुनाव में 250 पार्षदों के साथ 10 सांसद (7 लोकसभा सांसद और 3 राज्यसभा सांसद), 13 विधानसभा सदस्य वोट डालेंगे।
चुनाव से पहले आप ने प्रोटेम स्पीकर को लेकर सवाल उठाए
चुनाव से पहले अरविंद केजरीवाल और लेफ्टिनेंट गवर्नर (एलजी) वीके सक्सेना के बीच मतभेद सामने आया है। प्रोटेम स्पीकर के लिए आप ने मुकेश गोयल का प्रस्ताव रखा था, लेकिन एलजी ने भाजपा पार्षद सत्या शर्मा को प्रोटेम स्पीकर नियुक्त किया है।
केजरीवाल ने नियुक्ति पर सवाल उठाए हैं। केजरीवाल ने कहा कि एमसीडी में होने वाले नॉमिनेशन दिल्ली के अर्बन डेवलपमेंट मिनिस्टर के जरिए भेजे जाते हैं, लेकिन एमसीडीके आयुक्त ने फाइलें सीधे एलजी को भेज दीं। उन्होंने एलजी को लेटर लिखकर मामले पर पुनर्विचार करने को कहा है।


- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

Comments are closed.