Universe TV
हर खबर पर पैनी नजर

तांगोन नदी के बाढ़ से प्रभावित मालदा ग्राम पंचायत क्षेत्र में जिला प्रशासन ने पहुंचाई मदद

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

मालदा। तांगोन नदी का पानी बढ़ने से बांध टूट गया. उसके कारण गाजोल ब्लॉक के पूरे चकनगर ग्राम पंचायत क्षेत्र में बाढ़ आ गयी है. संबंधित ग्राम पंचायत क्षेत्र पूरी तरह से संचार से कट गया है। और ऐसे में मालदा के जिलाधिकारी नितिन सिंघानिया, मालदा जिला परिषद अध्यक्ष लिपिका बर्मन घोष प्रशासन के अधिकारियों के साथ तुरंत नाव से बाढ़ग्रस्त चकनगर गांव पहुंचे. बाढ़ के दौरान उन्होंने सैकड़ों ग्रामीणों की ओर से खाद्य सामग्री, तिरपाल समेत कई सुविधाएं उपलब्ध करायीं. यहां तक ​​कि बाढ़ पीड़ितों के लिए मुफ्त स्वास्थ्य शिविर भी लगाए गए।
जिला प्रशासन के अधिकारी मंगलवार दोपहर से बुधवार तक गाजोल प्रखंड के बाढ़ प्रभावित चकनगर इलाके की निगरानी करते रहे. मालदा जिला परिषद अध्यक्ष लिपिका बर्मन घोष ने कहा कि अचानक बांध टूटने से चकनगर समेत कई इलाकों में बाढ़ आ गयी. सभी की सुविधा के लिए विशेष स्वास्थ्य शिविर लगाया गया है.
जिलाधिकारी नितिन सिंघानिया ने बताया कि चकनगर इलाके में बाढ़ से किसानों और मछुआरों को कितनी क्षति हुई है, इसकी पूरी रिपोर्ट प्रखंड प्रशासन से मांगी गयी है. प्रभावित किसानों को बांग्ला फसल बीमा योजना से मुआवजा देने की व्यवस्था की जायेगी. बाढ़ प्रभावित लोगों के लिए सभी प्रकार की राहत वितरण की व्यवस्था पहले ही कर ली गई है।
मालूम हो कि पिछले सप्ताह शनिवार और रविवार को लगातार बारिश के कारण विभिन्न नदियों का पानी अचानक बढ़ने लगा है. गाजोल ब्लॉक में तांगोन नदी का पानी बढ़ गया और मंगलवार को बांध टूटकर इलाके में बाढ़ आ गई। जिला प्रशासन के अधिकारियों ने प्रभावित लोगों की ओर से बांध मरम्मत समेत विभिन्न सहयोग की व्यवस्था की.


- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

Comments are closed.