Universe TV
हर खबर पर पैनी नजर

प्रवासी भारतीय सम्मेलन में बोले पीएम मोदी- ‘भारतीयों ने जो ठाना वो करके दिखाया, हमारे लिए पूरा संसार ही स्वदेश है’

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

इंदौर। मध्य प्रदेश के इंदौर में आज देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रवासी भारतीय दिवस सम्मेलन का उद्घाटन किया। इस दौरान पीएम मोदी ने सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि वह अभी जिस शहर में हैं, वह अपने आप में अद्भुत है। लोग कहते हैं कि इंदौर एक शहर है, मैं कहता हूं कि इंदौर एक दौर है। पीएम मोदी ने कहा कि करीब 4 वर्षों बाद प्रवासी भारतीय सम्मेलन एक फिर से अपने मूल स्वरूप में हो रहा । ये सम्मेलन मध्य प्रदेश के उस धरती पर हो रहा है जिसे देश का हृदय क्षेत्र कहा जाता है।
वसुधैव कुटुंबकम की भावना- पीएम मोदी 
पीएम मोदी ने कहा कि दुनिया के अलग-अलग देशों में जब लोग दिखते हैं तो वसुधैव कुटुंबकम की भावना दिखती है। दुनिया के अलग-अलग देशों में जब भारत की शांति और उसके लोकतंत्र की चर्चा होती है। तो इससे देश का गौरव बढ़ जाता है। आज भारत के पास सक्षम युवाओं की एक बड़ी तादाद है। हमारे युवाओं के पास स्किल भी है और काम करने के लिए जज्बा भी है। भारत के युवाओं के साथ ही वह प्रवासी युवा भी हैं, जो भारत से जुड़े हैं। जो युवा विदेशों में जन्में हैं, उन्हें भी हम प्रोत्साहित कर रहे हैं।
करोड़ों लोगों को लगी मुफ्त में वैक्सीन
पीएम मोदी ने कहा कि पिछले कुछ वर्षों में भारत ने जो उपलब्धियां प्राप्त की हैं। वह असाधारण है। जब भारत कोविड महामारी के बीच वैक्सीन बना लेता है और जब भारत करोड़ों लोगों को मुफ्त में वैक्सीन लगाता है। जब भारत देश के बड़ी अर्थव्यवस्था वाला देश बनता है तो दुनिया के लोगों में क्योरिसीटी बढ़ती है कि भारत ये कैसे कर रहा है। भारत स्पेस टेक्नोलोजी में रिकॉर्ड बना रहा है।
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा- इंदौर आने के लिए उत्साहित थ
इससे पहले शहर के देवी अहिल्याबाई होलकर अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर राज्यपाल मंगू भाई पटेल, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा, भाजपा की प्रदेश इकाई के अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा और अन्य लोगों ने प्रधानमंत्री की अगवानी की। प्रधानमंत्री ने रविवार को ट्वीट किया था, कल नौ जनवरी को प्रवासी भारतीय दिवस के अवसर पर जीवंत शहर इंदौर जाने को उत्साहित हूं। यह हमारे प्रवासी भारतीयों के साथ जुड़ाव को गहरा करने का एक शानदार अवसर है, जिसने विश्व स्तर पर अपनी अलग पहचान बनाई है। अ
चार साल के अंतराल में सम्मेलन 
प्रवासी भारतीय दिवस सम्मेलन चार साल के अंतराल के बाद पहली बार भौतिक रूप से आयोजित किया जा रहा है और करीब 70 देशों के 3,500 से ज्यादा भारतवंशियों ने इसमें हिस्सा लेने के लिए पंजीकरण कराया है।इससे पहले प्रवासी भारतीय दिवस सम्मेलन 2021 में कोविड-19 वैश्विक महामारी के प्रकोप के चलते वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिये आयोजित किया गया था।


- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

Comments are closed.